उत्तर प्रदेश में शाम 4 बजे तक 60 प्रतिशत मतदान

लखनऊ/नई दिल्ली।  उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बुधवार को दूसरे चरण का मतदान हो रहा है। दूसरे चरण में 11 जिलों की 67 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। वहीं उत्तराखंड में भी 69 सीटों के लिए वोटिंग की जा रही है। कर्णप्रयाग सीट पर बीएसपी उम्मीदवार के निधन के बाद 9 मार्च को वोटिंग होगी। रामपुर में आजम खां और बसपा उम्मीदवार के समर्थकों के बीच झड़प हो गई।

मतदान की ताजा जानकारी
इस बीच रामपुर के रज़ा डिग्री कॉलेज में मतदान के दौरान बसपा उम्मीदवार डॉक्टर तनवीर तथा सपा उम्मीदवार आजम खान के समर्थकों के बीच झड़प हो गई। वहीं बिजनौर की नहटौर विधानसभा में अमीनाबाद तथा शेखपुरा गांव के मतदाताओं ने विकास न होने की बात कहते हुए चुनाव का बहिष्कार किया।

उत्तराखंड में एक बजे तक 30 प्रतिशत मतदान
वहीं आज उत्तराखंड में दोपहर 3 बजे तक 53 प्रतिशत मतदान हो गया है। उत्तराखंड में हरिद्वार, टिहरी, पौड़ी, देहरादून, रुद्रप्रयाग, चमोली, चम्पावत, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, बागेश्वर, उधमसिंहनगर, नैनीताल, उत्तरकाशी में चुनाव हो रहे है।

रामदेव ने लोगों से कहा, साफ छवि वाली सरकार को दें वोट
हरिद्वार। गुरू बाबा रामदेव ने लोगों से बड़ी संख्या में घरों से बाहर निकल एक साफ छवि वाली सरकार के लिए मतदान करने की अपील करते हुए कहा कि मतदान को अनिवार्य बना देना चाहिए। रामदेव ने वोट डालने के बाद पत्रकारों से कहा कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे बड़ी संख्या में घरों से बाहर निकलें और वोट डालें।

‘कर वोट पर चोट, मिटाओं प्रजातंत्र की खोट’ मैं लोगों से यही कहना चाहूंगा। इस बात पर जोर देते हुए कि एक अकेला व्यक्ति भी बदलाव ला सकता है उन्होंने कहा कि लोगों को उन उम्मीदवारों के लिए वोट करना चाहिए जो उन्हें लगता है कि साफ छवि के हैं। रामदेव ने कहा कि साफ छवि वाले उम्मीदवारों को वोट दें और अगर आपको लगता है कि कई उम्मीदवार भ्रष्ट हैं तो कम भ्रष्ट को वोट दीजिए। उन्होंने कहा कि वोट में बड़ी ताकत है। यह प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बदल सकता है।

लोगों को जरूर वोट देना चाहिए। मैं तो कहूंगा कि मतदान को सभी के लिए अनिवार्य बना देना चाहिए। जो लोग वोट नहीं देते उन्हें सुविधाओं से वंचित कर दिया जाना चाहिए। यह सवाल किए जाने पर कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार संतोषजनक काम कर रही है या नहीं उन्होंने कहा कि वह अपने कर्तव्य पूरी निष्ठा के साथ पूरे कर रहे हैं। योगा गुरू ने कहा कि मैंने वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान केंद्र में बदलाव लाने के लिए कड़ी मेहनत की थी जो कि मेरे राजनीतिक आंदोलन का लक्षय था। मुझे लगता है कि मोदी  अपना राजधर्म पूरी निष्ठा के साथ निभा रहे हैं।

Leave a Comment