जवान तेज बहादुर 20 सालों देश की सेवा कर रहें, पत्नी ने उठाया सवाल

जम्मू कश्मीर में बॉर्डर पर तैनात जवान तेज बहादुर यादव का वीडियो वायरल होने के बाद खाने-पीने की व्यवस्था को लेकर सेना के अधिकारियों पर कई सवाल खड़े हो गए है। जो आरोप जवान तेज बहादुर यादव ने अपनी वीडियो वायरल करके लगाए हैं। उन आरोपों पर जवान की पत्नी शर्मिला ने भी मोहर लगा दी है। जवान की पत्नी ने कहा है कि बार-बार उनके पति पर अनुशासनहीनता की कार्रवाई इसलिए की जाती है क्योंकि वो गलत के खिलाफ बोलते है।
tej-bahadur-yadav_famlyतेज बहादुर यादव जिला महेंद्रगढ़ के राता गांव का रहने वाला है, लेकिन वो खुद बी.एस.एफ. में है। इसलिए उनकी पत्नी शर्मिला और बेटा रोहित दोनों रेवाड़ी के शांति विहार में किराए पर रहते है। शर्मिला निजी कंपनी में नौकरी करती है और बेटा 12वीं करके आई.आई.टी. की तैयारी कर रहा है। शर्मीला का कहना है कि आज सुबह 9 बजे उनकी बात अपने पति से हुई थी, जिसमे वीडियो के बारे में ही थोड़ी -बहुत बात हुई जिसके बाद से उनका फोन नहीं मिल रहा है।

जवान तेज बहादुर यादव 20 सालों सेना में अलग अलग स्थानों पर अपने सेवाएं दे चुके है। अभी हाल ही में वो 19 दिसंबर को ही छुट्टी खत्म होने के बाद जम्मू गया था और उनकी ड्यूटी पुंछ में बॉर्डर पर लगा दी गई हौ और तब से उन्हें खराब खाना दिया जा रहा है। शर्मिला का कहने पर उनके पति ने बताया कि कई बार वो सेना के अधिकारियों को शिकायत भी कर चुके थे लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी। उलटा उनके खिलाफ ही अनुशासनहीनता की कार्रवाई की जाती रही। साथ ही शर्मिला ने कहा कि पहले उसका बेटा सोचता था कि सेना में जाए लेकिन जो सब चल रहा है इससे उनका बेटा भी अब सेना में नहीं जाना चाहता है।

जवान की पत्नी काफी परेसान हे वो कहती है  की उन के पति हमेसा देश के लिए फ़िक्रमंद रहे पर आज उन के साथ कोई नही मे सरकार से अपील करती हूँ की मेरे पति को न्याय मिले और जो लोग देश के जवानो की रोटी बेच रहे उन को सजा मिले ||