ये पढ़ लो नहीं तो जाना पड़ सकता है जेल

सावधान हो जाइए, अब यूपी पुलिस गोरक्षा के साथ मुर्गों की भी रक्षा करेगी। यूपी के बस्ती जिले में मुर्गों से क्रूरता के आरोप में पुलिस ने कार्रवाई की है। यहां बाइक पर मुर्गों को उल्टा टांगकर ले जा रहे दो युवकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस ने दोनों युवकों के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम, 1960 के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि युवक मुर्गों को इतनी बेरहमी के साथ उल्टा टांगकर ले जा रहे थे कि उनके चोंच से खून निकल रहा था।

पशु क्रूरता अधिनियम के सेक्शन 14 से 17 तक में क्रूरता के विभिन्न प्रकार बताए गए जिनमें प्रमुख हैं –

  • बिना उचित कारण के नाल लगाने के लिए पशुओं को जमीन पर नहीं गिरा सकते।
  • सिर, गर्दन, कान, सींग, टांग, पूछ या पंख से पकड़ना क्रूरता है।
  • पशु को नृत्य के लिए इस्तेमाल करना क्रूरता है।
  • मुर्गे को उल्टा टांगकर ले जाना क्रूरता है।
  • मुर्गे को टांग से नहीं बांध सकते।
  • नाल या नकेल या लगाम लगना क्रूरता है।

Leave a Comment