कानपूर में असदुद्दीन ओवैसी को 30 दिसंबर को बुलाने की तैयारी

कानपुर। समाजवादी पार्टी मतदाताओं के लिहाज से सबसे महफूज कैंट विधानसभा सीट से बाहुबली अतीक अहमद को मैदान पर उतारा है। लेकिन बाहुबली के शहर में पैर जमने के पहले ही AIMIM सक्रिय हो गई है। बताया जा रहा है कि पार्टी अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैशी 30 दिसंबर को शहर आ रहे हैं।

कौन है अतीक अहमद?

अतीक अहमद का जन्म 10 अगस्त 1962 को हुआ था मूलत वह उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जनपद के रहने वाले है. पढ़ाई लिखाई में उनकी कोई खास रूचि नहीं थी इसलिये उन्होंने हाई स्कूल में फेल हो जाने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी
 कई माफियाओं की तरह ही अतीक अहमद ने भी जुर्म की दुनिया से सियासत की दुनिया का रुख किया था. पूर्वांचल और इलाहाबाद में सरकारी ठेकेदारी, खनन और उगाही के कई मामलों में उनका नाम आया
आगामी विधानसभा चुनाव में कानपुर व उसके आस-पास मुस्लिम मतों को अपने पाले में करने के लिए सत्ताधारी पार्टी ने इलाहाबाद की राजनीति में दखल रखने वाले बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद को आगे किया और कैंट सीट से प्रत्याशी भी बना दिया।
पूर्व जिला अध्यक्ष उमर मारूफ ने बताया की कानपुर से तीन सीट छावनी, सीसामऊ, आर्यनगर से पार्टी किस्मत आजमाना चाहती है।
ज़िला अध्यक्ष अतीक़ अहमद के ज़रिये सोमवार को जिला प्रशासन से असद ओवेसी के आने की अनुमती मागि जाएगी।
अनुमति मिलने से आने वाले विधानसभा चुनाव में कानपूर की  सीटो पर पार्टी को फ़ायदा मिलेगा  पार्टी का चुनावी माहौल तैयार होगा जिससे कैंडीडेट को चुनाव में फायदा हासिल होगा।
आल इण्डिया मजलिशे इत्तिहादुल मुस्लेमीन ने  कानपुर से असदउद्दीन ओवैसी की पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली साहब के ज़रिये आर्य नगर 214 विधानसभा से हाजी राबीउल्ला मंसूरी को कैंडीडेट घोषित किया हे