कमर दर्द टांगों का दर्द और रीढ़ की हड्डी के दर्द को हमेशा के लिए कहे बाय बाय

दोस्तों आज मैं आपको बताने वाली हूं अदरक के अनोखे फायदे। अदरक एक बहुत ही उपयोगी औषधि है अदरक का हम एक मसाले के रूप में इस्तेमाल करते आ रहे हैं। अदरक सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है।

अदरक में काफी सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं जैसे कि आयोडीन, विटामिन, कैल्शियम, क्लोरीन वगैरा-वगैरा इसके अलावा अदरक में एक शक्तिशाली गुण होता है। वह यह कि ये एक बेहतरीन एंटीवायरल है अदरक को आप किसी भी तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं।

यानी कि आप इसका पाउडर या ऐसे ही किसी भी तरह से प्रयोग कर सकते हैं। सभी लोगों की रसोई में अदरक अवश्य मिलता है दुनिया में सभी लोग अदरक का इस्तेमाल करते हैं। अदरक का इतिहास भारत में 5 हज़ार साल से भी ज्यादा पुराना है। अगर यह कहा जाए कि अदरक अनेक गुणों की खान है। तो इसमें कुछ गलत नहीं होगा अदरक का आप किसी भी तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

आयुर्वेद में भी अदरक का बहुत ही महत्व है यह हर तरह के इन्फेक्शन को कम करने में इस्तेमाल किया जाता है। विभिन्न तरह की बीमारियों से भी हमें बचाता है जैसे कि सर्दी, जुकाम, खांसी, कफ, दमा इन सब बीमारियों में अदरक बहुत लाभकारी है।

अदरक का स्वाद तीखा होता है अदरक सूखी हो तो इसकी तासीर गर्म होती है अगर गीली हो तो इसकी तस्वीर ठंडी होती है। अदरक को बलवर्धक भी कहा जाता है अदरक का इस्तेमाल पेट के रोगों में भी किया जाता है।

रिसर्च में पाया गया है कि ताजा अदरक में 85% पानी पाया जाता है। 2.5% इसमें रेशे होते हैं 1% वसा, कार्बोहाइड्रेट 13% पाई जाती है अदरक हर तरह से बहुत ही गुणकारी है।

अदरक का सेवन करने से अर्थराइटिस, साइटिका, गठिया और रीढ़ की हड्डी के रोगों को खत्म किया जा सकता है चलिए आपको बताते हैं अदरक को किन-किन रोगों में किस तरह से दूर किया जा सकता है।

अदरक कैंसर से लड़ने में काफी मदद करती है इसीलिए अदरक का सेवन रोजाना करना चाहिए। ये हर तरह का दर्द निवारक है अदरक में दर्द को मिटाने का गुण होता है।

ताज़े अदरक को बारीक पीसकर इसमें ज़रा सा कपूर मिला लें और इस लेप को दर्द वाले स्थान पर लगाने से आपको लाभ मिलेगा। अगर सूजन है तो भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। आप को फौरन दर्द से छुटकारा मिल जाएगा।

अदरक कोलेस्ट्रॉल में भी काफी फायदेमंद होता है अदरक कोलेस्ट्रोल को कम करने में सहायता करता है जिससे आपका ब्लड सरकुलेशन नियमित हो जाता है।

अदरक सर्दी और जुकाम को भी ठीक कर देता है सर्दी-जुखाम में अदरक का रस निकालें और इसमें शहद मिलाकर हल्का सा गर्म करके पी लें। इससे आपको राहत मिलेगी इसके अलावा आप अदरक की चाय भी पी सकते हैं इससे भी आपको वही फायदा मिलता है।

अदरक पेट की समस्या को भी दूर कर देता है अदरक के रस के साथ नींबू का रस मिलाकर फिर इसमें सेंधा नमक और अजवाइन मिलाकर खाने से पाचन क्रिया दुरुस्त हो जाती है। अदरक से गैस की समस्या भी खत्म हो जाती है। इसका सेवन करने से आपके कब्ज की प्रॉब्लम भी खत्म हो जाती है।

अगर आपको पाचन संबंधित कोई प्रॉब्लम है तो उसके लिए भी अदरक काफी कारगर है।

अदरक को सालों से प्राचीन सभ्यता द्वारा एक पाचक के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है। इसमें वात को दूर करने वाले तत्व पेट की गैस को दूर करके पेट फूलने और उदर वायू की समस्या से बचाव करते हैं। साथ ही पेट में मरोड़ को ठीक करने वाले इसके तत्व मांसपेशियों को आराम पहुंचाते हुए अजीणता से राहत पहुंचाते हैं।

भोजन से पहले नमक छिड़क कर अदरक के टुकड़े खाने से लार बढ़ती है। जो पाचन में मदद करती है और पेट की समस्याओं से बचाव करती है। भारी भोजन के बाद अदरक की चाय पीने से भी पेट फूलने और उदर वायू को कम करने में मदद मिलती है।

अगर आपको पेट की समस्याएं ज्यादा परेशान कर रही हैं। तो आप फूड प्वाइज र्निग के लक्षणों को दूर करने के लिए अदरक का सेवन कर सकते हैं।

काफी ज्यादा टेंशन से भरे जीवन में बढ़ती उम्र के साथ बाल झड़ने की समस्या होने लगती हैं। कुछ लोग इसे रोकने के लिए काफी पैसे भी खर्च करते हैं। लेकिन उन्हें कोई फायदा नहीं होता।

लेकिन अब अदरक के इस्तेमाल से आप के बाल फिर से उग आएंगे इसके लिए अदरक और प्याज का रस, सेंधा नमक के साथ मिलाकर गंजे सिर पर मालिश करें। इससे आपको गंजेपन से राहत मिलेगी और बाल फिर से उग आएंगे।

अदरक आपके बालों के लिए भी बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है। अदरक का जूस रोजाना पीएं और अदरक के शुद्ध रस को अपने सर में लगाएं।

अदरक के कुछ अनोखे फायदे भी होते हैं अगर आपकी स्किन को चमका देता है सुबह गुनगुने पानी के साथ एक छोटी सी टुकड़ी अदरक की खाएं इससे आपकी स्किन चमकदार होगी और आप हमेशा जवां दिखेंगे।

जिन्हें भूख न लगने की बीमारी है वह अदरक का सेवन नियमित करें इससे आपकी भूख बढ़ जाएगी अगर आपको हिचकी की बीमारी है तो आप अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा मुंह में रखकर चूस लें ऐसा करने से आपको लाभ मिलेगा।

अगर आपके मुंह से स्मेल आती है तो अदरक उसको भी दूर कर देता है। अदरक का एक चम्मच रस निकालकर इसे एक गिलास पानी में डालकर कुल्ला करें।

अदरक कान के दर्द को भी ठीक कर देता है अदरक का रस निकालकर इसको हल्का सा गर्म करके कान में तीन बूंद डालें इससे आपको काफी फायदा होगा।

अदरक हर तरह की शारीरिक कमजोरी हो दूर कर देता है इसके साथ ही शरीर को चुस्त व स्वस्थ बनाने में काफी मदद करता है। अदरक की सोंठ या पाउडर को उबलते हुए पानी में मिला लें फिर उसमें शहद और थोड़ा सा नमक मिला लें। इसका सेवन करने से आपको काफी लाभ मिलेगा।

हाथ और पैर सुन होने पर भी आप अदरक का उपयोग कर सकते हैं सोंठ, गुड, घी और उड़द की दाल मिलाकर पीस लें फिर इसके लड्डू बनाएं फिर रोजाना इसका सेवन करें आपको बहुत फायदा होगा।

अदरक महिलाओं के मासिक धर्म के अनियमितता को भी दूर कर देता है।

अदरक कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने में सक्षम है। आधुनिक शोध में अदरक को विभिन्न प्रकार के कैंसर में एक लाभदायक औषधि के रूप में देखा जा रहा है और उसके कुछ आशाजनक नतीजे भी सामने आए हैं।

अदरक को स्त-न कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और कोलोन कैंसर के इलाज में भी बहुत लाभदायक पाया गया है।

शोध में पता चलता है कि अदरक के पौधे के रसायनों में स्वस्थ स्तन कोशिकाओं पर असर डाले बिना स्त-न कैंसर की कोशिकाओं के प्रसार को रोक दिया।

यह गुण बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि पारंपारिक विधियों में ऐसा नहीं होता हालांकि बहुत से टयूमर कीमोथेरेपी से ठीक हो जाते हैं।

मगर स्त-न कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करना ज्यादा मुश्किल होता है। वे अक्सर बच जाती हैं और उपचार के प्रति-प्रतिरोधक क्षमता विकसित कर लेते हैं।

अदरक के इस्तेमाल के दूसरे फायदे भी हैं कि उन्हें कैप्सूल के रूप में दिया जाना आसान है।

आधुनिक विज्ञान प्रमाणित करता है कि अदरक कोलोन में सूजन को भी कम कर सकता है जिससे कोलोन कैंसर रोकने में मदद मिलती है।

मधुमेह के मामले में अध्ययनों ने अदरक को इसके बचाव और उपचार दोनों में असरकारी माना है।

एक शोध में अदरक को टाइप 2 मधुमेह से पीड़ित के लिए असरदार पाया गया है। अदरक के तत्व इंसुलिन के प्रयोग के बिना ग्लूकोस कोशिकाओं तक पहुंचाने की प्रतिक्रिया बढ़ा सकते हैं।

इस तरह इससे उच्च रक्तचाप स्थल (हाई शुगर लेवल) को काबू रखने में काफी मदद मिल सकती हैं।

अदरक काफी सालों से हृदय रोगों के उपचार में भी इस्तेमाल होता आ रहा है। चीनी चिकित्सा में कहा जाता है कि अदरक के उपचारात्मक गुण हृदय को मजबूत बनाते हैं।

हृदय रोगों से बचाव और उसके उपचार में अक्सर अदरक के तेल का इस्तेमाल किया जाता है।

अदरक का अत्यधिक सेवन करना नुकसान देता है इसीलिए इस बात का खास ध्यान रखें कि अदरक का कभी भी बहुत ज्यादा सेवन ना करें वरना फायदे की जगह आप को नुकसान भी हो सकता है।