Coronavirus के बढ़ते मामलों से टेंशन में केंद्र सरकार, हालात संभालने के लिए कैबिनेट सेक्रेटरी ने की मीटिंग

Rate this post

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने राज्यों से कोरोना प्रोटोकॉल पर काम तेज करने को कहा है. इस संबंध में हालात पर चर्चा करने के लिए कैबिनेट सेक्रेटरी ने शुक्रवार को हाई लेवल मीटिंग भी की. 

नई दिल्ली: देश में दोबारा तेजी से बढ़ रहे कोरोना (Coronavirus) के मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार चौकस हो गई है. हालात पर चर्चा करने के लिए कैबिनेट सेक्रेटरी (Cabinet Secretary) ने शुक्रवार को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ वर्चुअल बैठक की. बैठक में कोरोना महामारी को रोकने और वैक्सीनेशन तेज करने के तरीकों पर चर्चा की गई. 

करीब 2 घंटे तक चली बैठक

करीब 2 घंटे से ज्यादा चली बैठक में केंद्र सरकार ने सभी राज्यों से कहा कि वह कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन सुनिश्चित करवाएं. कैबिनेट सेक्रेटरी ने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किए बिना इस महामारी को रोकना असंभव है. 

ट्रिपल ‘T’ पर काम करें सरकारें 

कैबिनेट सेक्रेटरी (Cabinet Secretary) ने कहा कि सभी राज्य सरकारें अपने-अपने प्रदेशों में ट्रेस, ट्रैक और ट्रीटमेंट के फॉर्म्यूले पर काम करे. उन्होंने कहा कि मास्क नहीं पहनने और सामाजिक दूरी का पालन न करने वालों के खिलाफ राज्य सरकारें सख्त कार्रवाई करें. 

मुख्य सचिवों को सजग रहने की जरूरत

उन्होंने राज्यों के मुख्य सचिवों से कहा कि तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण (Coronavirus) को रोकने के लिए वह जो भी उपाय अपनाना चाहते हैं, वह अपना सकते हैं. कैबिनेट सेक्रेटरी ने यह भी कहा कि कुछ राज्यों में कोरोना के डबल वैरिएंट केस देखने को मिल रहे हैं. ऐसे में राज्यों के मुख्य सचिवों को ज्यादा सजग रहने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें- Coronavirus की चपेट में आए रॉबर्ट वाड्रा, Priyanka Gandhi ने खुद को किया होम आइसोलेट; रद्द कीं चुनावी सभाएं

ग्राउंड पर काम तेज करने की अपील

कैबिनेट सेक्रेटरी ने कोरोना (Coronavirus) को लेकर राज्य सरकारों से एहतियात बरतने और ग्राउंड पर रोकथाम की कोशिशों को तेज करने के लिए भी कहा. बताते चलें कि इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी भी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक में इस फॉर्म्यूले पर काम तेज करने की अपील कर चुके हैं.