ये 6 सच्ची बातें जिन्हें मानने में शर्माते हैं लड़के

आज भी हमारे समाज में कई चीजें होती जो लिंग के आधार पर तय होती हैं. और लड़कों को जहां घर परिवार से ज्यादा सपोर्ट मिलता है वहीं लड़कियों को दोयम दर्जे का समझा जाता है. और महिलाओं को कमजोर समझा जाता है. और पुरुषों के लिए ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ जैसी कई संज्ञा दी जाती है. और मर्दों को बाहर कमाने के लिए भेजा जाता है तो वहीं महिलाओं को घरेलू काम काज के लिए समझा जाता है. पर समाज में कई पुरुष ऐसे भी हैं जिन्हें किचन के काम करना, साफ-सफाई करना काफी अच्छा लगता है. लेकिन सामाजिक दबाव में वे इन बातों को मानने से ही इंकार कर देते हैं.

तो आइए जानते हैं वे 6 वो बड़ी बातें जो पुरुष करते हैं लेकिन मानने से इंकार करते हैं.

¤ पुरुषों का महिलाओं से ज्यादा कमाना जैसे यह एक अघोषित नियम बन गया है. और हर संस्थान में महिलाओं और पुरुषों कि तनख्वाह में भी फर्क देखने को मिलता है. पर आधुनिक समय में कई बार ऐसा भी होता है कि पत्नी अपने पति से ज्यादा कमाने लगती है. और इससे पुरुषों के अंदर एक असहजता आ जाती है. पर कई लोग इस बात को मानने से इंकार करते हैं.

¤ खाना बनाने को लेकर भी समाज में एक धारणा है कि खाना बनाना केवल महिलाओं का काम है लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है. और न तो यह सिर्फ महिलाओं का काम है. और ना ही सभी महिलाओं को खाना बनाना अच्छा लगता है. और कई पुरुष तो ऐसे हैं भी जिन्हें खाना बनाना बेहद पसंद होता है और वे किचन में अपनी पत्नी की मदद भी करते हैं. पर सामाजिक दबाव के फेर में वे इस बात को मानने से इंकार करते हैं. कि उन्हें किचन में काम करना अच्छा लगता है.

¤ कुछ लोगो का कहना हैं कि ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ पर ऐसा बिल्कुल गलत है. और ये सिर्फ कहने की बात है. और मर्दों को भी समान रूप से दर्द होता है. और अगर इमोशनल होने की बात करें तो कई लड़के तो लड़कियों से भी ज्यादा इमोशनल होते हैं. हालांकि ये बात पुरुष मानने से इंकार करते हैं.

¤ अगर लड़की अपने किसी पुरुष दोस्त की तारीफ अपने पति या बॉयफ्रेंड के सामने बार-बार करती है. तो इससे उन्हें लगता है कि उनकी तुलना उनसे हो रही है. और इस बात से हर पुरुष को जलन भी होती है. लेकिन इसे मानने से वे इंकार करते हैं.

¤ हमने काफी सुना है कि लड़कियों का ध्यान इसी पर रहता है कि किस लड़की ने कौन सा मेक-अप इस्तेमाल किया है या फिर किस लड़की ने कौन सी ड्रेस पहनी है. और आपको यह जानकर हैरानी होगी की ये सब काम लड़के भी करते हैं. और कई लड़के दूसरे लड़कों का फैशन सेंस देखना काफी पसंद करते हैं. और अगर पसंद आए तो वे उसे अपनाने से भी नहीं झिझकते. पर ये बात अलग है कि कोई इस बात को मानता नहीं है.

¤ सजना संवरना लड़कियों को ही नहीं लड़कों को भी बहुत पसंद होता है. पर अक्सर लड़के इस बात को मानने से परहेज करते हैं.