Home धर्म इस मंदिर के फर्श पर सोने से भर जाती है उजड़ी हुई...

इस मंदिर के फर्श पर सोने से भर जाती है उजड़ी हुई गोद

SHARE
infertility women

संतान न होने का दर्द उन महिलाओ के दिल से पूछो जिन्हें दर-दर की ठोकरें खाने के बावजूद भी निराशा ही हाथ लगती है। बच्चे की चाह में लोग हर जतन का र्लेते हैं। फिर भी उन में कुछ लोगों को औलाद का सुख नसीब हो जाता है और कुछ को नहीं।

डॉक्ट रों के चक्कलर लगाने पर भी जब उन्हें कोई उम्मीद नज़र नहीं आती हैं तो फिर वह आस्थास के ठिकानों पर जाने लगते हैं और मननते मांगते हैं।

यहां हम आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बता रहे है जहां पर जाने से संतान सुख सबको मिल जाता है। मतलब महिला की सूनी गोद में फूल खिल जाते हैं।

हिमाचल प्रदेश के गांव में माता सिमसा नाम का मंदिर बहुत मशहूर है।

simsa ka mandir

यहाँ पर मंदिर के फर्श पर सोने से ही नि:संतान महिलाओं की गोद भर जाती है और वह गर्भवती हो जाती हैं।

santandatri mandir

यहाँ के लोगों का यही कहना हैं कि इस मंदिर में खुद देवी मां उनके सपनों में आकर संतान होने का आशीर्वाद देती है। इसीलिए इस मंदिर में दूर-दूर से हजारों नि: संतान महिलाएं आकर इस खास फर्श पर सोती है। ये मंदिर संतानदेही व संतानदात्री के नाम से भी मशहूर है। यहां पर सलिन्दरा उत्सव नवरात्र मनाते हैं जिसका ये अर्थ है सपने आना। और इस दौरान महिलाएं दिन व रात इस मंदिर के फर्श पर लेटती और सोती हैं। यही मान्यनता हैं कि ऐसा करने से वो जल्द गर्भवती हो जाती हैं। दावा किया जाता है कि देवी मां सपने में आकार महिला को फल देती हैं तो फिर उस महिला को संतान का आशीर्वाद मिल जाता है।

Leave a Reply