Home धर्म भीष्म पितामह ने बताई स्त्रियों की गुप्त बातें

भीष्म पितामह ने बताई स्त्रियों की गुप्त बातें

SHARE
ladkiyo ki gupt bate

महाभारत युद्ध के बाद जब युधिष्टर राजा बन गए तब वह तीरों की शैया पर लेटे भीष्म पितामह से राजनीतिक शिक्षा लेने पहुंचे। भीष्म पितामह ने युधिष्ठिर को जितनी भी बातें बताई है वह आज भी हमारे जीवन के लिए बहुत उपयोगी है। तो आईए जानते हैं कौन सी थी वह बातें जो भीष्म पितामह ने युधिष्ठिर को बताई थीं।

पहली बात है नहीं करना चाहिए स्त्रियों का अनादर। भीष्म पिता ने युधिष्ठिर को बताया था कि जिस घर में स्त्रियों का अनादर होता है वहां के सारे काम असफल हो जाते हैं। जिस कुल की बहू और बेटियों को दुख मिलने के कारण शौक होता है उस कुल का नाश हो जाता है। उन को प्रसन्न रख कर पालन करने से लक्ष्मी का वास होता है।

दूसरी बात है कि नाराज स्त्रियां दे देती हैं श्राप। पितामह भीष्म ने युधिष्ठिर को बताया कि स्त्रियां नाराज होकर जिन घरों को श्राप दे देती हैं वह नष्ट हो जाते हैं और उनकी शोभा, समृद्धि और संपत्ति का नाश हो जाता है। संतान की उत्पत्ति उसका पालन पोषण और लोक यात्रा का प्रसन्नतापूर्वक निर्वाह भी उन्हीं पर निर्भर है। यदि पुरुष स्त्रियों का सम्मान करेंगे तो उनके सभी कार्य पूरे हो जाएंगे।

तीसरी बात है कि जहां होता है स्त्रियों का आदर वहां देवता निवास करते हैं। भीष्म पिता के अनुसार यदि किसी स्त्रियों की मनोकामना नहीं पूरी की जाए तो वह पुरुष को प्रसन्न नहीं कर पाती इसलिए स्त्रियों को सदा सत्कार और प्यार करना चाहिए। जहां स्त्रियों का आदर होता है वहां देवता प्रसन्न होते हैं और निवास करते हैं। स्त्रियां ही घर की लक्ष्मी है और पुरुषों को उनका भली-भांति सत्कार करना चाहिए।

चौथी बात है कि स्त्रियां होती है घर की लक्ष्मी। स्त्रियों को देवी लक्ष्मी के समान माना जाता है। जिस घर में स्त्री को देवी समझा जाता है उस घर में कभी भी धन-धान्य की कमी नहीं होती।

पांचवी बात है कि बहु को माने बेटी के समान। जिस घर में बहू को बेटी के समान माना जाता है उस घर की बेटी भी अपने ससुराल में बहुत सुखी रहती है और स्त्री के पति को भी सफलता की प्राप्ति होती है। इसके साथ घर में देवी देवताओं की कृपा बनी रहती है।

छठी बात है कि स्त्री पर हाथ उठाना एक पाप है। जिस घर में स्त्रियों के साथ गलत व्यवहार किया जाता है या उन पर हाथ उठाया जाता है अर्थात जिस स्त्री का पति उसे मारता है पीटता है तो उस पति का सर्वनाश हो जाता है और ऐसा व्यक्ति कभी भी सफल नहीं हो पाता।

तो दोस्तों ये थी वह गुप्त बातें जो भीष्म पितामह ने तीरों की शैया पर लेटकर युधिष्ठिर को बताई थीं तो दोस्तों आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें नीचे कमेंट के द्वारा जरूर बताएं।

Leave a Reply